HindiPulse-jankari in hindi

Web Hosting Kya hai Aur Kitne Prakaar ki Hoti Hai- Hindi Jankari

Category : INTERNET |
Gayatri Verma

Blog-Ke-Liye-Hosting-Kaise-Buy-Kare

जो भी अपनी खुद की वेब Website या Blog बनाना चाहते है उनके लिये दो चीजें सबसे जरुरी होती है पहला है Domain और दूसरा है web Hosting, डोमेन के बारे में सब जानते ही है लेकिन ज्यादातर लोग ये नहीं जानते है कि वेबहोस्टिंग क्या होती है। ये सब आपको इस Blog मे पूरा मिलेगा।   

इस Blog में ह्म आपको बताएंगे कि आखिर ये वेब होस्टिंग होती क्या है, ये कितने प्रकार की होती है, और इसे किस प्रकार खरीदा जा सकता है।

 

Web Hosting Kya Hai? 

सबसे पहले तो आप ये ही जान ले कि वेब होस्टिंग क्या होती है। इंटरनेट पर जब आप एक वेबसाइट या ब्लॉग बनाते है तो उसे इंटरनेट पर एक जगह की जरूरत होती है जिसे ह्म वेब होस्टिंग (web hosting) कह्ते है।

वेब होस्टिंग का काम सारी websites को इंटरनेट पर एक space यानि जगह देना होता है जिससे किसी website को Internet पर ACCESS किया जासकता है। जहाँ आप अपनी website कि files, images, videos को store करके रख सकते है।

 

Web Hosting कितने प्रकार की होती है?

type-of-web-hosting

Web hosting क्या है ये हमने ऊपर आपको बताया अब आपको ये जानना भी बहुत जरुरी है कि ये कितने प्रकार कि होती है और इन सब का क्या काम होता है इसके क्या फायदे है।सबसे पह्ले तो ये कि ये बहुत प्रकार की होती है जैसे-

  • शेयर्ड वेब होस्टिंग  (shared web hosting)
  • वर्चुअल प्राइवेट सर्वर(virtual private server)
  • डेडीकेटीड होस्टिंग(dedicated hosting)
  • क्लाउड होस्टिंग(cloud होस्टिंग)

 

Shared web hosting (शेयर्ड वेब होस्टिंग)

जैसा कि इसका नाम ही shared है तो इससे ही पता चलता है की इसका काम भी ऐसा ही है।Shared web hosting का काम होता है होस्टिंग को शेयर करना इसमें एक ही server होता है जिसके अंदर बहुत सारी website इस होस्टिंग को शेयर करती है।

इस तरह की होस्टिंग से बहुत से फयदे भी है जैसे ये होस्टिंग बहुत ही सस्ती मिल जाती है, एक नए blogger के लिये सबसे असान और बेस्ट होस्टिंग है तो वही इससे कुछ नुकसान भी है जैसे यदि आपकी website पॉपुलर हो जाती है तो ये इसकी loading स्पीड को कम भी कर देता है, और high traffic को झेल भी नही पाता है।

लेकिन इसका इस्तेमाल नया blogger शुरुआत में कर सकता है और फिर बाद मे बदल भी सकता है।

 

Virtual private server(वर्चुअल प्राइवेट सर्वर)

वर्चुअल प्राइवेट सर्वर को vps hosting कहते है इसमें जो सर्वर होता है उसे कई भागो में बाँटा गया होता है और जिस भाग को आप खरीदते है वो अपका अपना प्राइवेट space होता है जिसे आपको किसी और से शेयर करने की जरुरत नही होती है। इस vps hosting से आपकी hosting बिल्कुल secure रहती है, अच्छा परफॉरमेंस भी देती है और shared होस्टिंग के मुकाबले ज्यादा traffic भी देती है।

 

Dedicated hosting (डेडीकेटीड होस्टिंग)

डेडीकेटीड होस्टिंग में आपको अपना एक पुरा सर्वर मिलता है जिसमें आप अपनी website कि files, images, videos का डेटा store करके रख सकते है। इस होस्टिंग से काफी high traffic को आसानी से हैंडल किया जा सकता है परंतु ये बहुत महँगी होस्टिंग होती है।

 

Cloud hosting (क्लाउड होस्टिंग)

इस होस्टिंग को सबसे भरोसेमंद होस्टिंग कहा जाता है क्युंकि इसमें बहुत सारे सर्वर एक क्लाउड की तरह आपकी website के लिये काम करते है और इससे website के down होने के चांसिस बिल्कुल नही रह जाते है। इससे कितना भी high traffic हो असानी से हैंडल कर सकती है।

 

Free Blog website kaise banaye

Blogging Se Paise Kaise Kamaye (पूरी जानकारी in Hindi)

 

Web hosting कहां से खरीदे

होस्टिंग खरीदने के लिये बहुत सारी कंपनीज है जैसे की Hostgator India , Godaddy, Bluehost, Bigrock यहाँ से आप नेटबैंकिंग के ज़रिये आसानी से होस्टिंग खरीद सकते है। 

आप अपनी जरूरत के हिसाब से किसी भी कंपनी से होस्टिंग ले सकते है लेकिन इसे खरीदने से पहले आपको इन चीज़ो की जानकारी होना आवश्यक है-

Disk space

होस्टिंग खरीदते समय पहले आप ये जान ले कि जो भी स्पेस आप ले रहे है उसमे disk space कितना है| disk space से मतलब है होस्टिंग की स्टोरेज़ केपेसिटी, सबसे बेस्ट होता है unlimited storage को खरीदना |

Bandwidth

इस से मतलब है आपकी वेबसाइट एक समय मे कितना डाटा access करती है,जब कोई आपकी वेबसाइट को access करता है तो आपकी ही सर्वर से कुछ डाटा यूज़ करके उसे इन्फोर्मेश्न शेयर करता है, अगर आपकी वेबसाइट की bandwidth कम होगी तो आपकी वेबसाइट को ज्यादाविज़ीटर access करेंगे और आपकी वेबसाइट डाउन होती जाएगी|

Up time

आपकी वेबसाइट जब तक online है या available है उसे up time कहते है और किसी भी कारण खुल नही पाती है या available नही होती है तो इससे आपकी वेबसाइट डाउन हो जाती है इसलिए आज ज्यादातर कंपनी 99.9%up time की guarantee देती है और हमें इसे ही लेना भी चाहिए।

 

आज हमने क्या सीखा 

में  उम्मीद करती  हु की आपको मेरे इस ब्लॉग से web hosting क्या होती है in hindi, जो भी बताया गया आपके बहुत काम आएगा। हम अपने रीडर को वेब होस्टिंग के बारे में  सारी जानकारी देने की कोसिस की है,

अगर फिर भी आपको कुछ doubts हो तो आप  comments करके पूछ सकते है , इस ब्लॉगिंग वेबसाइट को बनाने का वही मकशद है की, हमारे users को साई और पूरी जानकारी मिले.

यदि आपको यह post पसंद आया है तो इससे अपने Social Media (Facebook, Twitter, Instagram) में share करना ना भूले.

hindi pulse
Gayatri Verma
Internet से जुडी काफी जानकारियां जिन्हें आपके लिए जानना जरुरी हैं उन्हें पढ़िए Hindipulse Par
hindi pulse
Deepak
at 2020-07-08 22:01:05

Good

ReplyCancel Reply
Reply Comment:
hindi pulse
Deepak
at 2020-07-08 22:01:36

Good

ReplyCancel Reply
Reply Comment:
Leave a Comment: